WHO ने ट्रांस फैट को खत्म करने हेतु REPLACE अभियान शुरू किया

0
48

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने 2023 तक वैश्विक खाद्य आपूर्ति से औद्योगिक रूप से उत्पादित कृत्रिम ट्रांस-फैट को खत्म करने के लिए व्यापक योजना ‘REPLACE’ शुरू की है। WHO के अनुसार, ट्रांस फैट से होने वाले हृदय रोगों से प्रत्येक वर्ष विश्व भर में 5,00,000 से अधिक लोगों की मृत्यु होती है। ट्रांस-फैट का उन्मूलन स्वास्थ्य की रक्षा और जीवन बचाने के लिए महत्वपूर्ण है।

REPLACE के तहत छह सूत्रीय कार्यक्रम बनाया गया है जिसमें खाद्य पदार्थों से ट्रांस फैट समाप्त करने का प्रयास किया जायेगा:

  1. Review: औद्योगिक रूप से उत्पादित ट्रांस फैट के आहार स्रोतों की समीक्षा करना।
  2. Promote: ट्रांस फैट की अपेक्षा स्वस्थ फैट और तेलों के प्रतिस्थापन को बढ़ावा देना।
  3. Legislate: औद्योगिक रूप से उत्पादित ट्रांस फैट को खत्म करने के लिए विधि या विनियामक कार्यों को लागू करना।
  4. Assess: खाद्य आपूर्ति में ट्रांस फैट सामग्री का आकलन और निगरानी करना।
  5. Create: ट्रांस फैट से स्वास्थ्य को होने वाले नुकसान के बारे में जागरुकता फैलाना।
  6. Enforce: नीतियों और विनियमों के अनुपालन को लागू कराना।

ट्रांस फैट:

ट्रांस फैट स्वास्थ्य के लिए घातक होता है, ख़ासकर हृदय के लिए, क्योंकि यह लाभदायक कॉलेस्टेरॉल की मात्रा को कम कर देता है, इससे कैंसर और मधुमेह जैसी बीमारियाँ होने का ख़तरा बढ़ जाता है। ट्रांस फ़ैट की मात्रा सबसे अधिक वनस्पति घी और फिर वनस्पति तेल में है जबकि इसकी सबसे कम मात्रा घी और मक्खन में पाई जाती है।

डेनमार्क वर्ष 2004 में अपनी खाद्य आपूर्ति से ट्रांस वसा को खत्म करने वाला पहला देश बना था और इसके बाद अमेरिका और यूरोप सहित उत्तरी अमेरिका के कई देशों ने इसी क्रम का पालन किया है।