23 मार्च : शहीद दिवस

0
62

23 मार्च को शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है, आज के दिन 1931 में भारत के तीन महान स्वतंत्रता सेनानियों भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को मृत्युदंड दिया था। लाहौर षड़यंत्र केस में इन महान स्वतंत्रता सेनानियों के लिए 24 मार्च, 1931 को मृत्युदंड का आदेश दिया गया था। परन्तु उन्हें 23 मार्च, 1931 को शाम से 7 बजे फांसी दे दी गयी थी।

30 अक्टूबर, 1928 को लाला लाजपत राय ने साइमन कमीशन के विरोध में लाहौर में प्रदर्शन किया, इस विरोध प्रदर्शन में लाठीचार्ज के बाद उनकी मृत्यु हो गयी।

लाला लाजपत राय की मृत्यु के प्रतिशोध में भगत सिंह, राज गुरु, जय गोपाल तथा सुख देव ने ब्रिटिश पुलिस चीफ स्कॉट की हत्या की योजना बनायीं। परन्तु उन्होंने DSP जे.पी. सौन्ड़ेर्स पर गोली चलायी, जिसमे उसकी मृत्यु हो गयी। बाद उन्हें दिल्ली असेंबली में बम फेंकने के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया था।