20वीं पशुधन गणना 2019

0
24

केंद्रीय मत्स्यपालन और पशुपालन मंत्रालय के तहत पशुपालन और डेयरी विभाग द्वारा 20 वीं पशुधन गणना (20th Livestock Census) 16 अक्टूबर 2019 को जारी की गई। पशुधन की गणना देश भर में समय-समय पर 1919 के बाद से ही आयोजित हो रही है। 20 वीं पशुधन गणना अक्टूबर 2018 में शुरू की गई थी।

मुख्य बिंदु:

  • देश में कुल पशुधन (Livestock) संख्या 535.78 मिलियन है, जिसमें 19वीं पशुधन गणना -2012 की तुलना में 4.6% की वृद्धि हुई है।
  • 2019 में कुल गोजातीय (Bovine) संख्या (मवेशी, भैंस, मिथुन और याक) 302.79 मिलियन है जो पिछली गणना में 1.0% की वृद्धि दर्शाता है।
  • 2019 में देश में मवेशियों (Cattle) की कुल संख्या 192.49 मिलियन है, जो पिछली गणना की तुलना में 0.8% अधिक है।
  • मादा कैटल (गायों की आबादी) 145.12 मिलियन है, जो पिछली गणना (2012) के मुकाबले 18.0% बढ़ी है।
  • देश में विदेशी / क्रॉसब्रीड और देशी / गैर-विवरणीय मवेशी आबादी क्रमशः 50.42 मिलियन और 142.11 मिलियन है।
  • पिछली गणना की तुलना में कुल देशी नस्लों (वर्णनात्मक और गैर-वर्णनात्मक) में मवेशियों की आबादी में 6% की गिरावट हुई है। हालांकि, 2012-2019 के दौरान देशी नस्ल के मवेशियों की संख्या में गिरावट की गति 2007-12 की तुलना में बहुत कम है जो लगभग 9% थी।
  • देश में कुल भैंस 109.85 मिलियन है जो पिछली गणना की तुलना में लगभग 1.0% की वृद्धि दर्शाती है।
  • गायों और भैंसों में कुल दुधारू पशु (दूध देने वाली और दूध देना बंद कर दी मवेशी) 125.34 मिलियन है , जो पिछली गणना में 6.0% की वृद्धि दर्शाती है।
  • 2019 में देश में भेड़ों की कुल संख्या 74.26 मिलियन है, जो पिछली गणना के मुकाबले 14.1% बढ़ी है।