12 नवंबर: लोक सेवा प्रसारण दिवस

0
95

प्रतिवर्ष 12 नवंबर को देश भर में लोक सेवा प्रसारण दिवस (Public Service Broadcasting Day) मनाया जाता है। यह दिवस 1947 में पहली बार राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के नयी दिल्ली स्थित आकाशवाणी स्टूडियो में आगमन की स्मृति में मनाया जाता है।

उन्होंने देश के विभाजन के बाद हरियाणा के कुरूक्षेत्र में अस्थाई रूप से रह रहे विस्थापितों को 12 नवंबर 1947 को ही आकाशवाणी से सम्बोधित किया था। इस दिन आकाशवाणी दिल्ली कई कार्यक्रमों का आयोजन करती है।

इसके अतिरिक्त देश की पहली रेडियो उद्घोषक स्वतंत्रता सेनानी उषा मेहता को साल 1942 में इसी दिन ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ रेडियो पर प्रसारण करने के लिए गिरफ्तार किया गया था। देश के इस प्रथम रेडियो की शुरुआत  डॉ. राम  मनोहर लोहिया से प्रेरणा लेकर विट्ठलभाई झवेरी ने की थी। इस रेडियो का संचालन उषा मेहता ही करती थीं।

लोक सेवा प्रसारण दिवस सन 1947 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के दिल्ली के आकाशवाणी स्टूडियो में पहली और अंतिम बार आने की याद में मनाया जाता है। गांधी जी हमेशा लोक सेवा प्रसारण के दो महत्वपूर्ण स्तंभों सेवा और हिमायत के महत्व पर जोर देते थे।