हरियाणा सरकार ने 7-स्टार ग्राम पंचायत इंद्रधनुष योजना शुरू की

0
34

हरियाणा सरकार ने एक अनूठी पहल के तहत 7-स्टार ग्राम पंचायत इन्द्रधनुष योजना शुरू की है। इस योजना के अंतर्गत राज्य की पंचायतों को सात सामाजिक मानदंडों के आधार पर स्टार रैंकिंग प्रदान की जाती है। इस योजना के तहत राज्य के करीब 1,120 गाँवों को स्टार रैंकिंग प्रदान की गई है, स्टार रेटिंग प्राप्त इन गाँवों को ‘स्टार विलेज’ के रूप में पहचाना जाएगा।

इस योजना के तहत, सात सामाजिक मानदंड जिनके अंतर्गत पंचायतों का फैसला किया जाएगा वे लिंग अनुपात, शिक्षा, स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण, शासन और सामाजिक भागीदारी हैं। सभी मानकों पर खरा उतरने वाले गांवों को 1 लाख रूपए के पुरस्कार से पुरस्कृत किया जाएगा।

मुख्य बिंदु:

  • हरियाणा की कुल 6,204 ग्राम पंचायतों में से 1120 गाँवों (18 प्रतिशत ग्राम पंचायतों) को स्टार विलेज का दर्जा दिया गया है।
  • 6-स्टार रेटिंग प्राप्त करने वाले तीन गाँव पलवल ज़िले के है, पाँच स्टार वाले तीन गाँव पलवल एवं रोहतक ज़िले के हैं जबकि 4 स्टार प्राप्त करने वाले 9 गाँव अंबाला, फरीदाबाद, गुरूग्राम, हिसार एवं पलवल ज़िले के हैं।
  • 407 स्टार रैंकिंग वाले गाँवों के साथ अंबाला ज़िला प्रथम स्थान पर है, जबकि 199 स्टार रैंकिंग वाले गाँवों की रेटिंग के साथ गुरूग्राम नंबर दो तथा 75 स्टार रैंकिंग वाले गाँव रेटिंग के साथ करनाल ज़िला तीसरे स्थान पर है।
  • लिंगानुपात में सुधार के बिंदु को तीसरे नंबर और बेहतर शिक्षा व्यवस्था को दूसरे नंबर पर रखा गया है, इसमें क्रमश: 109 एवं 567 गाँवों को स्टार रेटिंग प्रदान की गई।

भिन्न रंग के स्टार:

  • गुलाबी स्टार: लिंग अनुपात में सुधार करने में उत्कृष्ट प्रदर्शन।
  • ग्रीन स्टार: पर्यावरण की सुरक्षा हेतु।
  • सफेद स्टार: स्वच्छता हेतु।
  • केसर स्टार: अपराध मुक्त गांवों को दिया जाएगा।
  • आसमानी स्टार: इससे उस गांव को सम्मानित किया जाएगा जिसमें कोई ड्रॉप-आउट नहीं होगा।
  • गोल्डन स्टार: सुशासन हेतु।
  • सिल्वर स्टार: गांवों के विकास में भागीदारी के लिए इससे सम्मानित किया जाएगा।