हरदीप एस पुरी ने ई-धरती ऐप लॉन्च किया

0
40

आवास एवं शहरी गरीबी उपशमन राज्‍य मंत्री श्री हरदीप एस पुरी ने 7 मार्च, 2019 को ई-धरती ऐप लॉन्च किया। यह एक नई ऑनलाइन प्रणाली है जहां सभी तीन मुख्य मॉड्यूल यानी परिवर्तन, प्रतिस्थापन और दाखिल खारिज को ऑनलाइन किया गया है। एल एंड डीओ (Land & Development Office: L&DO) में भुगतान प्रणाली को भी पूरी तरह से डिजिटल कर दिया गया है।

ई-धरती (e-Dharti app) जियो पोर्टल एक अन्‍य महत्वपूर्ण ऐप्लिकेशन है जिस पर एल एंड डीओ ने काम करना शुरू किया है। यह जीआईएस आधारित 65000 संपत्तियों की मैपिंग पर आधारित है। इस ऐप्लिकेशन के माध्यम से एल एंड डीओ के तहत प्रत्येक सरकारी संपत्ति, चाहे वह आवंटित हो या खाली पड़ी संपत्ति हो, को ‘ई-धरती जियो पोर्टल’ नामक पोर्टल पर मैप किया जाना प्रस्तावित है। इस पोर्टल के माध्यम से संपत्ति के पट्टेदार अपनी संपत्ति के मानचित्र सहित मूल विवरण देख सकेंगे। पट्टेदार को इस कार्यालय से उनकी संपत्ति के बारे में एक संपत्ति कार्ड भी जारी किया जा सकता है बशर्ते वह इसकी मांग करे।

भूमि एवं विकास कार्यालय (एल एंड डीओ) उन सार्वजनिक आवेदनों को निपटाता है जो मुख्य तौर पर लीजहोल्ड से फ्रीहोल्ड में परिव‍र्तन, कानूनी उत्तराधिकारियों के नाम का प्रतिस्थापन और खरीदार के नाम पर दाखिल खारिज आदि से संबंधित होते हैं। कुल प्राप्‍त आवेदनों में इन तीन प्रकार के आवेदनों की हिस्‍सेदारी लगभग 95 प्रतिशत होती है। इसके अलावा यह कार्यालय बिक्री अनुमति, गिरवी अनुमति और उपहार अनुमति से संबंधित आवेदनों को भी निपटाता है। व्‍यवस्‍था को कहीं अधिक पारदर्शी, जवाबदेह, कुशल और प्रभावी बनाने के लिए इस कार्यालय द्वारा तमाम पहल की गई हैं ताकि आम जनता, विशेषकर वृद्ध, गरीब, बीमार और वंचित व्यक्तियों के साथ-साथ महिलाओं और विधवाओं को भी इसका फायदा मिल सके।