साहित्य में नोबेल पुरस्कार 2018 एवं 2019 की घोषणा की गयी

0
23

आस्ट्रिया के साहित्यकार पीटर हैंडके को वर्ष 2019 का साहित्य नोबेल तथा पोलैंड की लेखिका ओल्गा तोकार्सज़ुक को वर्ष 2018 का साहित्य का नोबेल पुरस्कार देने की घोषणा की गई। उपर्युक्त विजेताओं के नामों की घोषणा स्वीडिश एकेडमी द्वारा 10 अक्टूबर, 2019 को की गई। वर्ष 2018 में विवाद की वजह से साहित्य के नोबेल पुरस्कार की घोषणा नहीं की गई थी।

पीटर हेन्डके:

पीटर हेन्डके एक ऑस्ट्रियन नाटककार, अनुवादक तथा उपन्यासकार हैं। उन्होंने इंटरनेशनल इब्सेन अवार्ड, मूलहैमेर ड्रेमेटिकरप्रेस, फ्राज़ काफ्का पुरस्कार समेत कई अवार्ड जीते हैं। उन्होंने कई फिल्मों के लिए पटकथा लेखन का कार्य किया है, इनमें कुछ एक प्रमुख फ़िल्में इस प्रकार हैं: गोलकीपर्स फियर ऑफ़ पेनल्टी, द रॉंग मूव, द लेफ्ट हैंडेड वीमेन, द एब्सेंस इत्यादि।

पिछले वर्ष एक विवाद के कारण साहित्य में नोबेल पुरस्कार नही दिया गया था। दरअसल अकादमी सदस्य केटरीना फ्रॉस्टेनसन के पति जीन क्लाउडे पर यौन शोषण के आरोप लगे थे। जिस कारण कई लोगों को पद त्याग करना पड़ा था, इससे नोबल पुरस्कार की गरिमा को ठेस पहुंची थी। 1901 से अब तक 110 बार साहित्य में नोबेल पुरस्कार दिया जा चुका है। गौरतलब है कि अब तक केवल 14 महिलाओं ने साहित्य में नोबेल पुरस्कार जीता है।

ओल्गा तोकार्कजुक:

ओल्गा तोकार्कजुक पोलैंड की एक लेखिका, एक्टिविस्ट तथा बुद्धिजीवी हैं। उन्होंने वॉरसॉ विश्वविद्यालय से मनोविज्ञान में प्रशिक्षण प्राप्त किया है। उन्होंने कई कविताओं तथा उपन्यासों की रचना की है। उनकी पुस्तक “फ्लाइट्स” के लिए उन्हें नाइकी अवार्ड से सम्मानित किया गया था, यह पोलैंड के सबसे प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कारों में से एक है। शांति तथा लोकतांत्रिक विकास के लिए इन्हें जर्मन पोलिश इंटरनेशनल ब्रिज पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।