विश्व स्वास्थ्य दिवस : 7 अप्रैल

0
104

प्रत्येक वर्ष 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य दिवस का उद्देश्य स्वास्थ्य के प्रति जानकारी और जागरूकता का प्रसार करना है। इस वर्ष विश्व स्वास्थ्य दिवस की थीम है: Health Coverage : Everyone Everywhere (हेल्थ कवरेज : एवरीवन, एवरीवेयर) यानी हर किसी को हर जगह बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिले।

यह दिवस विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की स्थापना की वर्षगांठ के दिन मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र ने 7 अप्रैल 1948 को WHO की स्थापना की थी। WHO ने 1948 में पहली बार जेनेवा में 7 अप्रैल को वार्षिक तौर पर विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाने का फैसला किया था। विश्व स्वास्थ्य दिवस के रुप में वर्ष 1950 में पूरे विश्व में इसे पहली बार मनाया गया था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी प्रगति की जा रही है परन्तु अभी भी करोड़ों लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त नहीं हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन:

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं पर आपसी सहयोग एवं मानक विकसित करने वाली संस्था है।
  • यह संयुक्त राष्ट्र संघ की एक अनुषांगिक इकाई है। इसका उद्देश्य विश्व के लोगो के स्वास्थ्य का स्तर ऊँचा करना है।
  • इसकी स्थापना 7 अप्रैल 1948 को की गयी थी।
  • इसके 193 सदस्य देश तथा दो संबद्ध सदस्य हैं। स्विटजरलैंड के जेनेवा शहर में इसका मुख्यालय स्थित है।
  • भारत भी विश्व स्वास्थ्‍य संगठन का एक सदस्य देश है और इसका भारतीय मुख्यालय भारत की राजधानी दिल्ली में स्थित है।
  • WHO के वर्तमान डायरेक्टर जनरल ट्रेड्रॉस एडोनम है जिन्होंने अपना पांच वर्षीय कार्यकाल 1 जुलाई 2017 को शुरू किया था।

भारत में स्वास्थ्य आंकड़े:

भारत ने पिछले कुछ सालों में तेजी के साथ आर्थिक विकास किया है लेकिन इस विकास के बावजूद बड़ी संख्या में लोग कुपोषण के शिकार हैं। राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के अनुसार तीन वर्ष की अवस्था वाले 3.88 प्रतिशत बच्चों का विकास अपनी उम्र के हिसाब से नहीं हो सका है और 46 प्रतिशत बच्चे अपनी अवस्था की तुलना में कम वजन के हैं जबकि 79.2 प्रतिशत बच्चे एनीमिया से पीड़ित हैं। गर्भवती महिलाओं में एनीमिया 50 से 58 प्रतिशत बढ़ा है।