विश्व रक्तदाता दिवस : 14 जून

0
59

विश्व भर में प्रत्येक वर्ष 14 जून को विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य रक्तदाता को प्रोत्साहित करना और उससे जुड़ी भ्रांतियों को दूर करना है। विश्‍व रक्‍तदाता दिवस 2019 की थीम ‘Safe Blood for All’ है। यानी सभी के लिए सुरक्षित रक्‍त की व्‍यवस्‍था करना है।

विश्व रक्तदाता दिवस, शरीर विज्ञान में नोबल पुरस्कार प्राप्त कर चुके वैज्ञानिक कार्ल लैंडस्टाईन की याद में पूरी विश्व में मनाया जाता है। उनका जन्‍म 14 जून 1868 को हुआ था।

उन्होंने मानव रक्‍त में उपस्थित एग्‍ल्‍युटिनि‍न की मौजूदगी के आधार पर रक्‍तकणों का ए, बी और ओ समूह की पहचान की थी। रक्त के इस वर्गीकरण ने चिकित्सा विज्ञान में महत्वपूर्ण योगदान दिया।

इसी खोज के लिए महान वैज्ञानिक कार्ल लैंडस्टाईन को साल 1930 में नोबल पुरस्कार दिया गया था।

भारत में रक्तदान की स्थिति:

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानक के तहत भारत में सालाना एक करोड़ यूनिट रक्त की जरूरत है लेकिन उपलब्ध 75 लाख यूनिट ही हो पाता है। अर्थात क़रीब 25 लाख यूनिट रक्त के अभाव में हर साल सैंकड़ों मरीज़ दम तोड़ देते हैं।