वंदे भारत एक्सप्रेस ने 1 लाख रनिंग किलोमीटर पूरा किया

0
10

15 फरवरी, 2019 को लांच भारत की पहली इंजन रहित ट्रेन, ‘वंदे भारत एक्सप्रेस’, जिसे ‘ट्रेन 18’ के रूप में भी जाना जाता है, ने 16 मई, 2019 को केवल तीन महीने के समय अवधि में एक यात्रा गंवाए बिना 1 लाख रनिंग किलोमीटर पूरा किया। यह नई दिल्ली से वाराणसी तक चलती है।

इसके साथ ही वंदे भारत एक्सप्रेस अब जल्द ही भारत की सबसे तेज ट्रेन के रूप में शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों का स्थान ले लेगी।

इस उच्च गति ट्रैन का निर्माण पीएम नरेंद्र मोदी की ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत 18 महीने की अवधि में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) द्वारा किया गया है।

चेन्नई के इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी द्वारा 29 अक्टूबर, 2018 को ट्रेन को आधिकारिक रूप से चलाया गया।

यह भारत की पहली सेमी-हाई स्पीड ट्रेन है जो विश्व स्तरीय यात्री सुविधाओं से सुसज्जित है।

ध्यान देने योग्य है कि वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली और वाराणसी के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती है। यह 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में सक्षम है। यह शताब्दी एक्सप्रेस की तुलना में यात्रा के समय में 15 प्रतिशत की कटौती करेगा।