लक्ष्मी विलास बैंक और इंडियाबुल्स हाउजिंग फाइनैंस का विलय

0
63

लक्ष्मी विलास बैंक (LBB) ने 5 अप्रैल को इंडियाबुल्स हाउजिंग फाइनैंस (IBH) के साथ विलय की घोषणा की। इसका उद्देश्य अधिक पूंजी आधार और व्यापक भौगोलिक पहुंच वाला उद्यम बनाना है। विलय के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) समेत अन्य नियामकों से मंजूरी लेनी होगी।

  • लक्ष्मी विलास बैंक (LBB) की मार्च 2018 अंत में कुल परिसंपत्ति 40,429 करोड़ रुपये थी और उसके पास 2,328 करोड़ रुपये की आरक्षित निधि है।
  • दिसंबर 2018 के अंत में IBH की कुल परिसंपत्ति 1,31,903 करोड़ रुपये की थी और उसकी एकीकृत शुद्ध संपत्ति 17,792 करोड़ रुपये थी।
  • विलय की योजना के तहत LBB के शेयरधारकों को प्रति 100 शेयर के बदले इंडियाबुल्स के 14 शेयर मिलेंगे।
  • दोनों के विलय से बनने वाले उद्यम में कर्मचारियों की संख्या 14,302 होगी और 2018-19 के पहले नौ महीने की अवधि में उसका दिया गया कर्ज 1.23 लाख करोड़ रुपये होगा।