‘राष्ट्रीय स्वच्छ वायु’ कार्यक्रम का मसौदा जारी किया गया

0
27

केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने 17 अप्रैल 2018 को वायु प्रदूषण को कम करने के लिए राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (एनसीएपी) का मसौदा जारी किया है। इसका उद्देश्य देश भर में वायु प्रदूषण की समस्या को व्यापक तरीके से निपटाना है। स्वच्छ वायु अभियान राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण के स्तर में महत्त्वपूर्ण कटौती करने का एक गंभीर प्रयास है।

राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम से संबंधित मुख्य तथ्य:

  • व्यापक और विश्वसनीय डेटाबेस को सुनिश्चित करने हेतु देश भर में प्रभावी और कुशल परिवेश वायु गुणवत्ता निगरानी नेटवर्क को विकसित करना हैं।
  • वायु प्रदूषण की रोकथाम, नियंत्रण और कमी के लिए प्रबंधन योजना तैयार करना हैं।
  • वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए समय पर उपायों के लिए कुशल डेटा प्रसार और सार्वजनिक आउटरीच तंत्र विकसित करना।
  • प्रदूषण में कमी लाने के लिये अभियान के दौरान संगोष्ठियों का आयोजन भी किया जाएगा। इनमें वायु प्रदूषण एवं स्वास्थ्य कार्यशाला, वायु प्रदूषण रोकने वाली प्रौद्योगिकियों, गैर-सरकारी संगठनों, सिविल सोसायटी, नागरिकों इत्यादि का सहयोग लिया जाएगा।

इससे पहले पर्यावरण मंत्रालय ने घोषणा की थी कि वह लगभग 100 गैर-प्राप्ति शहरों में वायु प्रदूषण को तीन साल में 35% और पांच साल में 50% कम करने की उम्मीद है। गैर-प्राप्ति वाले शहरों  में उन मानकों को लिया जाता है जहाँ वायु की गुणवत्ता राष्ट्रीय परिवेश वायु गुणवत्ता मानकों से भी ख़राब स्थिति में हैं।