राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा एवं प्रशिक्षण परिषद की स्थापना को मंज़ूरी

0
102

मंत्रिमंडल ने कौशल विकास के मद्देनज़र मौजूदा नियामक संस्थानों- राष्ट्रीय व्यावसायिक प्रशिक्षण परिषद (NCVT) और राष्ट्रीय कौशल विकास एजेंसी (NSDA) को मिलाकर राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा एवं प्रशिक्षण परिषद (NCVET) की स्थापना को मंज़ूरी दे दी है।

राष्ट्रीय व्यावसायिक शिक्षा व प्रशिक्षण परिषद् (NCVET) व्यावसायिक शिक्षा तथा प्रशिक्षण संस्थानों के नियमन कर कार्य करेगा। NCVET इन व्यवसायिक प्रशिक्षण संस्थानों के कार्य के लिए न्यूनतम मानक निश्चित करेगा। NCVET में एक अध्यक्ष तथा कार्यकारी व गैर-कार्यकारी सदस्य होंगे। NCVET पहले से उपलब्ध NCVT तथा NSDA की आधारभूत इन्फ्रास्ट्रक्चर का उपयोग करेगा।

NCVET के प्रमुख कार्य:

  • प्रदाता निकायों, मूल्यांकन निकायों तथा कौशल सम्बन्धी सूचना प्रदानकर्ताओं को मान्यता देना तथा रेगुलेट करना।
  • प्रदाता संस्थाओं तथा सेक्टर स्किल काउंसिल द्वारा तैयार योग्यताओं को मान्यता स्वीकार करना।
  • अवार्डिंग बॉडीज तथा मूल्यांकन एजेंसियों द्वारा प्रत्यक्ष रूप से व्यावसायिक प्रशिक्षण संस्थानों को रेगुलेट करना।
  • अनुसन्धान कार्य तथा सूचना का प्रसारण।
  • शिकायतों का निवारण करना।

NCVET की स्थापना से होने वाले लाभ:

  • इस संस्थागत सुधार से गुणवत्ता में वृद्धि होगी, बाज़ार में कौशल विकास कार्यक्रमों की प्रासंगिकता बढ़ेगी जिसके फलस्वरूप व्यावसायिक शिक्षा एवं प्रशिक्षण की साख में इज़ाफा होगा।
  • कौशल क्षेत्र में निजी निवेश को प्रोत्साहन मिलेगा और कर्मचारियों की भागीदारी बढ़ेगी।
  • यह संभव हो जाने से व्यावसायिक शिक्षा के मूल्यों और कुशल श्रमशक्ति को बढ़ाने संबंधी दोहरे उद्देश्यों को प्राप्त करने में सहायता मिलेगी। इसके कारण भारत को विश्व की कौशल राजधानी बनाने के विषय में प्रधानमंत्री के एजेंडा को बल मिलेगा।
  • NCVET भारत की कौशल ईको-प्रणाली की एक नियामक संस्था है, जिसका देश में व्यावसायिक शिक्षा एवं प्रशिक्षण में संलग्न सभी व्यक्तियों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।
  • कौशल आधारित शिक्षा के विचार को आकांक्षी आचरण के रूप में देखा जाएगा, जिससे छात्रों को कौशल आधारित शैक्षिक पाठ्यक्रमों में हिस्सा लेने हेतु प्रोत्साहन मिलेगा।
  • इस उपाय से उद्योग और सेवा क्षेत्र में कुशल श्रमशक्ति की स्थिर आपूर्ति के ज़रिये व्यापार में सुगमता होगी।