राष्ट्रपति ने पांच राज्यों में राज्यपालों की नियुक्ति की:

0
35

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पांच राज्यों अरुणाचल प्रदेश, बिहार, तमिलनाडु, असम और मेघालय में राज्यपाल नियुक्त किए ।
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लेफ्टिनेंट गवर्नर भी नियुक्त किए गए।

नियुक्त गवर्नर्स हैं:

1. बनवारीलाल पुरोहित: 

उन्हें तमिलनाडु के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। साल 1977 से राजनीति में सक्रिय रूप से जुड़े रहे हैं। 1978 में उन्होंने महाराष्ट्र के नागपुर से पहला विधानसभा चुनाव जीता जबकि 1980 में दक्षिणी नागपुर से एक बार फिर विधानसभा पहुंचे। 1982 में राज्य में मंत्री भी बने। पुरोहित 1984 और 1989 में नागपुर कंपटी से लोकसभा चुनाव जीते। 1996 में एक बार फिर लोकसभा चुनाव जीता।

2. गंगा प्रसाद: 

उन्हें मेघालय के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। साल 1994 में पहली बार बिहार विधान परिषद के लिए चुने गए। 18 साल तक एमएलसी बने रहे। इससे पहले पांच साल तक प्रसाद विपक्ष में भी रह चुके हैं।

3. देवेंद्र कुमार जोशी:

उन्हें अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह के लेफ्टिनेंट गवर्नर के रूप में नियुक्त किया गया। 31 अगस्त 2012 से 26 फरवरी 2014 तक नेवी स्टाफ के प्रमुख रहे। चार जुलाई, 1954 को पैदा हुए जोशी की स्कूली शिक्षा नैनीताल और अल्मोड़ा।

4. जगदीश मुखी:

उन्हें असम के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। एक दिसंबर, 1942 को पाकिस्तान के डेरा गाजी खान में पैदा हुए। उन्होंने राजस्थान के राज श्री कॉलेज से स्नातक किया। 1967 में दिल्ली के श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से M.Com किया। 1975 से सक्रिय राजनीति से जुड़े रहे हैं।

5. ब्रिगेडियर बीडी मिश्रा: 

उन्हें अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। 31 जुलाई, 1995 को भारतीय सेना से ब्रिगेडियर के रूप में रिटायर्ड हुए। बीस जुलाई, 1939 को पैदा हुए। एनएसजी कमांडो भी रह चुके हैं।

6.सत्य पाल मलिक: 

उन्हें बिहार के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया। उन्होंने 1990 में राज्य मंत्री, संसदीय कार्य और पर्यटन की छः महीनों की संक्षिप्त अवधि का आयोजन किया था। वह दो बार राज्यसभा सदस्य के रूप में और लोकसभा के एक बार चुने गए थे। वह 1 9 70 के दशक में उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदस्य थे।