युवाओं को रोज़गार के लिए तैयार करने हेतु ‘SHREYAS’ पोर्टल लॉन्च

0
89

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावडेकर ने 27 फरवरी, 2019 को सामान्य स्नातकों को औद्योगिक प्रशिक्षु अवसर उपलब्ध कराने के लिए ‘श्रेयस’ स्कीम (Scheme for Higher Education Youth in Apprenticeship and Skills: SHREYAS) का शुभारंभ किया। श्रेयस यानी ‘उच्चतर शिक्षा युवा प्रशिक्षु एवं कौशल स्कीम’ का मुख्य लक्ष्य भारतीय युवाओं की नियोजन क्षमता को बढ़ाना है।

इस स्कीम के निम्नलिखित उद्देश्य हैंः

  1. उच्चतर शिक्षा प्रणाली में शिक्षण के दौरान प्रासंगिक रोजगार से परिचय कराना,
  2. शिक्षा एवं उद्योग/सेवा सेक्टर के बीच सतत आधार पर संपर्क बढ़ाना
  3. युवाओं को जिस कौशल की अधिक मांग हो, उसे प्रदान करना,
  4. उच्चतर शिक्षा में ‘शिक्षा के दौरान कमाई’ प्रणाली आरंभ करना,
  5. उद्योग एवं व्यवसाय को अच्छी गुणवत्ता वाली श्रम शक्ति उपलब्ध कराना,सरकार द्वारा
  6. नियोजन के लिए किए जा रहे प्रयासों से युवाओं को जोड़ना।

उपर्युक्त स्कीम तीन मंत्रालयों की पहलों का संयुक्त कार्यक्रम है। ये तीन मंत्रालय हैंः मानव संसाधन विकास मंत्रालय, कौशल एवं उद्यमिता विकास मंत्रालय तथा श्रम एवं नियोजन मंत्रालय।

इसमें देश के सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेज, आईटीआई और पॉलिटेक्निक के छात्रों को रजिस्ट्रेशन करना होगा। उनकी प्रोफाइल के आधार पर आगे छह माह, नौ माह या एक साल की ट्रेनिंग दी जाएगी। वर्ष 2019 में लगभग तीन लाख छात्रों को इसके माध्यम से ट्रेनिंग देने का लक्ष्य रखा गया है। प्रोग्राम के माध्यम से इंडस्ट्री छात्रों को स्वास्थ्य, शिक्षा, उद्योग आदि का पूरा प्रशिक्षण देगी, ताकि डिग्री पढ़ाई पूरी होने के बाद उन्हें रोजगार मिल सके।