मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने इस्तीफा दिया

0
16

अर्थशास्त्री अरविंद सुब्रमण्यन ने 20 जून 2018 को भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) के पद से इस्तीफा दे दिया है। उनकी इस्तीफे को निजी वजह बताई जा रही है। अरविंद सुब्रमण्यम ने अक्टूबर 2014 में रघुराम राजन के भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर बन जाने के बाद यह पद संभाला था।

अरविंद सुब्रमण्यन ने 16 अक्टूबर 2014 को यह पद संभाला था। तब इस पद पर अरविंद सुब्रमण्यन की तैनाती तीन साल के लिए हुई थी। बाद में कार्यकाल पूरा होने पर उन्हें कुछ और दिनों के लिए सेवा विस्तार मिला था। केंद्र सरकार ने कई कड़े फैसले जिसमें नोटबंदी से लेकर के जीएसटी को लागू करने का है, वो अरविंद सुब्रमण्यम के समय लिए गए। इसके अलावा जनधन खातों को खोलना और उन्हें आधार एवं मोबाइल से लिंक करने का श्रेय इन्हीं को जाता है।

अरविंद सुब्रमण्यन दिल्ली के सेंट स्टीफंस कॉलेज से स्नातक हैं। देश के वित्त मंत्रालय में मुख्य आर्थिक सलाहकार बनने से पहले वे अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में अर्थशास्त्री भी रहे हैं। उन्हें ‘फॉरेन पॉलिसी’ नामक पत्रिका ने वर्ष 2011 में विश्वं के शीर्ष 100 वैश्विक चिंतकों में शुमार किया था।