भारत ने मिसाइल ‘हेलीना’ का किया परीक्षण

0
126

भारत ने 8 फरवरी को टैंक-रोधी मिसाइल ‘हेलीना’ का परीक्षण किया। यह परीक्षण ओडिशा तट के बालासोर जिले में चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज से किया गया। ‘हेलीना’ एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल ‘नाग’ का हेलीकॉप्टर से दागे जाने वाला प्रारूप है।

  • हेलीना देश में विकसित हेलीकॉप्टर से छोड़ी जाने वाली टैंक-रोधी निर्देशित मिसाइल है।
  • यह दुनिया में अत्याधुनिक टैंक रोधी हथियारों में से एक है।
  • इसका विकास देश में ही रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) ने किया है।
  • 42 किलो वजनी इस मिसाइल की मारक क्षमता 7 से 8 किलोमीटर है।
  • इसे अचूक निशाने की वजह से फायर एंड फॉरगेट (दागो और भूल जाओ) का दर्जा प्राप्त है।
  • यह मिसाइल इंफ्रारेड इमेजिंग सीकर (आईआईआर) से दिशानिर्देशित होती है।यह रात में भी लक्ष्य पर सटीक निशाना लगा सकती है।
  • यह अपने साथ आठ किलोग्राम विस्फोटक ले जा सकती है।
  • 230 मीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से यह अपने लक्ष्य पर प्रहार करती है।