भारत ने आयातित इस्पात उत्पादों पर एंटी डंपिंग शुल्क लगाया

0
43

भारत ने यूरोपीय संघ, और चीन तथा कोरिया समेत कई अन्य देशों के चुनिंदा इस्पात उत्पादों पर एंटी डंपिंग शुल्क लगा दिया है। घरेलू उद्योग को सस्ते आयात से बचाने के लिए यह कदम उठाया गया है। इससे पहले, इसी महीने सरकार ने चीन से इस्पात की छड़ों के आयात पर पांच वर्ष के लिए डंपिंगरोधी शुल्क लगाया था।

डंपिंगरोधी एवं संबद्ध शुल्क महानिदेशालय के सुझााव के बाद राजस्व विभाग ने ये शुल्क लगाने का फैसला किया। विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार, ताजा डंपिंगरोधी शुल्क 4.58 प्रतिशत से 57.39 प्रतिशत है। ये शुल्क अगले 3 साल यानि 10 दिसंबर 2020 तक प्रभावी होंगे। ये शुल्क चीन, ताइवान, दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका, थाइलैंड, अमेरिका और यूरोपीय संघ के इस्पात उत्पादों पर लगाये गये हैं।

पिछले कुछ समय से घरेलू स्तर पर स्टील के उत्पादन में तेजी से बढ़ोतरी हुई है साथ में घरेलू स्टील कंपनियों ने स्टील उत्पादों का उत्पादन भी बढ़ाया है, लेकिन विदेशों से आने वाले सस्ते स्टील उत्पादों की वजह से घरेलू स्टील कंपनियों को घाटा हो रहा था, ऐसे में सरकार ने अब विदेशों से आने वाले सस्ते स्टील उत्पादों पर डंपिंगरोधी शुल्क लगा दिया है ताकि घरेलू स्टील उद्योग को फायदा हो सके।