भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण किया

0
172

सतह से सतह पर लंबी दूरी तक मार करने वाली और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम अग्नि-5 मिसाइल का 10 दिसंबर, 2018 को सफल परीक्षण किया गया। मिसाइल को ओडिशा तट के समीप डा अब्‍दुल कलाम द्वीप से मोबाइल लांचर के जरिए प्रक्षेपित किया गया। इस मिसाइल की मारक क्षमता 5500 किलोमीटर तक है।

इस मिसाइल की मारक क्षमता अन्तरमहाद्वीपीय है। इस मिसाइल की चपेट में चीन, यूरोप और पाकिस्तान आ चुके हैं। यह मिसाइल तकनीक के मामले में भी आधुनिक है। क्योंकि इस मिसाइल में नेवीगेशन, गाइडेंस, वॉरहेड और इंजन की आधुनिक सुविधाएं हैं। इस मिसाइल का उद्देश्य बिंदु की सटीकता से भेदने के लिए डिजाइन किया गया है। यह मिसाइल उसमें लगे कंप्यूटर से निर्देशित होगा।

अग्नि-5 मिसाइल की लंबाई 17.5 मीटर है। इसकी चौड़ाई 2 मीटर तथा वजन 50 टन है। यह मिसाइल अपने साथ डेढ टन विस्फोट ढोने की ताकत रखती है। इस मिसाइल की गति ध्वनि की गति से 24 गुना अधिक है।

यह मिसाइल का 7वां परीक्षण था। इससे पहले अग्नि-5 का परीक्षण वर्ष 2012, 2013, 2015, 2016, और जनवरी 2018 में भी किया जा चुका है। इसका छठवां परीक्षण जून 2018 में किया गया था जबकि सातवां परीक्षण दिसंबर 2018 में किया गया।