भारत के पहले ओलंपिक तैराक शमशेर खान का निधन

0
29

भारत के पहले ओलंपिक तैराक शमशेर खान का 15 अक्टूबर 2017 को आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे 87 वर्ष के थे। शमशेर खान अपनी तीन बेटियों व दो बेटों के साथ रह रहे थे।

शमशेर खान ने वर्ष 1956 में मेलबर्न ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया था, वे भारत के पहले ओलंपिक तैराक बने थे। शमशेर खान ने गुलमुर में रेपल्ले के पास स्थित एक छोटे से गांव इस्लामपुर के अपने घर में अंतिम सांस ली।

शमशेर खान:

  • मेलबर्न ओलंपिक में भारत की ओर से तैराकी में भाग लेने वाले शमशेर खान 200 मीटर बटरफ्लाई और ब्रेस्टस्ट्रोक में चौथे स्थान पर रहे थे।
  • वे वर्ष 1946 में भारतीय सेना में भर्ती हुए थे, जहां उन्होंने तैराकी का प्रशिक्षण प्राप्त किया।
  • शमशेर खान ने तैराकी की बटरफ्लाई प्रतियोगिता में राष्ट्रीय रिकार्ड भी अपने नाम किया था।
  • उन्होंने विभिन्न अवसरों पर कहा था कि उन्हें भारत सरकार द्वारा खेलों में भाग लेने के बावजूद भी कोई सरकारी सहायता प्राप्त नहीं हुई थी।

# ओलंपिक खेलों में भारत:

ओलंपिक खेलों में भारत ने सबसे पहले 1900 में एकमात्र खिलाड़ी के साथ भाग लिया था जिसने एथलेटिक्स में दो रजत पदक जीते। वर्ष 1920 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों में देश ने पहली बार एक टीम भेजी और उसके बाद से हर ग्रीष्मकालीन खेलों में भाग लिया। वर्ष 1964 से शीतकालीन ओलंपिक खेलों में भी भारत ने कई बार भाग लिया है। वर्ष 1920 और 1980 तक लंबे समय तक ओलम्पिक में भारत की राष्ट्रीय हॉकी टीम का दबदबा बना रहा।