भारत की वृद्धि दर 2018-19 में 7.3% रहेगी : विश्व बैंक

0
129

हाल ही में विश्व बैंक (WB) द्वारा जारी ‘ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स रिपोर्ट’ के अनुसार, भारत की विकास दर 2018-19 में 7.3 प्रतिशत की दर से बढ़ेगा। वहीं चीन का विकास दर 6.3 प्रतिशत ही रहने की उम्मीद है।

WB द्वारा प्रस्तुत ‘ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स रिपोर्ट’ के अनुसार, भारत में विमुद्रीकरण और वस्तु एवं सेवा कर (GST) के कारण प्रारंभिक असफलताओं के बावजूद 2017 में भारत की विकास दर में 6.7% की वृद्धि देखी गई। इसके अनुसार, 2018-19 में भारत का विकास दर 7.3 -7.5 प्रतिशत तक पहुँचने का अनुमान है क्योंकि देश में व्यापक सुधारों के कार्यान्वयन के साथ अन्य उभरती अर्थव्यवस्थाओं की अपेक्षा वृद्धि की क्षमता ज़्यादा है। इसके चलते भारत आने वाले दशक में उच्च विकास दर प्राप्त कर सकता है।

WB के निदेशक ने बताया कि वृद्धि दर बढ़ाने के लिये भारत को FDI (Foreign Direct Investment) बढ़ाने तथा गैर-निष्पादित ऋण एवं उत्पादकता पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

भारत में माध्यमिक शिक्षा पूर्णता दर के क्षेत्र में बहुत अधिक संभावनाएँ हैं। श्रम बाज़ार में सुधार, शिक्षा और स्वास्थ्य सुधार के साथ-साथ निवेश में होने वाली समस्याओं को कम करने से भारत की संभावनाओं को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। भारत की जनसांख्यिकीय प्रोफ़ाइल अन्य देशो की अर्थव्यवस्थाओं की अपेक्षा ज़्यादा अनुकूल है जहाँ महिला श्रम बल की भागीदारी भी बढ़ रही है।