भारत-कजाखस्तान सैन्य युद्धाभ्यास ‘प्रबल दोस्तकी’ 2017 आरंभ

0
34

02 नवम्बर 2017 को भारत और कजाखस्तान के मध्य संयुक्त युद्धाभ्यास प्रबल दोस्तकी 2017 हिमाचल प्रदेश के बकलोह में आरंभ हुआ। प्रबल दोस्तकी नाम यह युद्धाभ्यास 2 नवम्बर 2017 से 16 नवम्बर 2017 तक अर्थात 14 दिन तक होगा। इस युद्धाभ्यास का प्रमुख उद्देश्य संयुक्त राष्ट्र के तत्वाधान में ग्रामीण और अर्ध शहरी माहौल में आतंकवाद और उग्रवादी चुनौतियों का डट कर सामना करते में अंतर संचालन क्षमता में वृद्धि करना है।

भारत और कजाखस्तान के मध्य आयोजित प्रबल दोस्तकी 2017 दोनो देशों के मध्य आयोजित किये जाने वाले सैन्य युद्धाभ्यास का दूसरा संस्करण है। प्रबल दोस्तकी युद्धाभ्यास का पहला संस्करण सितंबर 2016 में आयोजित किया गया था। इस सैन्य अभ्यास में भारतीय सेना की तरफ से 11वें गोरखा राइफल्स और कजाखस्तान सेना की समान सैन्य टुकडी शामिल है।

प्रबल दोस्तकी-2017

  • चौदह दिन तक चलने वाले इस सैन्य अभ्यास में दोनों देशों के मध्य आपसी संबंधों में प्रगाढ़ता के लिए प्रयास किया जायेगा।
  • इसका उद्देश्य संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत प्रतिद्वंदी विद्रोह की पृष्ठभूमि में आतंकवाद की कार्रवाई में एक दूसरे की परिचालन प्रक्रियाओं के साथ दोनों दलों को परिचित करना है।
  • इस सैन्य अभ्यास में भारतीय सेना की ओर से 11वें गोरखा राइफल्स और कजाखस्तान सेना की समान सैन्य टुकड़ी शामिल है।