प्रख्यात लेखक व अभिनेता गिरीश कर्नाड का निधन

0
33

प्रख्यात लेखक, नाकटकार, अभिनेता गिरीश कर्नाड का 81 वर्ष की आयु में 10 जून, 2019 को बंगलुरू में निधन हो गया। उन्होंने अपना पहला नाटक 1960 में ‘मां निषाद’ लिखा। उनका अंतिम नाटक ‘रक्षसी तंगड़ी’ था।

  • वर्ष 1972 में इब्राहिम अल्काजी के प्रोडक्शन ‘तुगलक’ से उन्हें पहचान मिली जिसे उन्होंने 1964 में लिखा था।
  • उन्होंने अपनी फिल्मी अभिनय की शुरूआत 1970 की कन्नड फिल्म ‘संस्कार’ से किया।
  • 1971 की ‘वंश वृक्ष’, उनके द्वारा निर्देशित पहली फिल्म थी।
  • 1999 में उन्होंने एपीजे अब्दुल कलाम की ‘विंग ऑफ फायर’ को अपनी आवाज प्रदान की।
  • वे 1974-75 में भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआाई) के निदेशक रहे।
  • 1986-87 में मालगुडी डेज नामक टीवी श्रृंखला में उन्होंने स्वामी के पिता की भूमिका निभायी।
  • इकबाल, टाइगर जिंदा है, शिवाय जैसी हिंदी फिल्मों में अभिनय किया।
  • उन्हें वर्ष 1992 में पद्म भूषण और वर्ष 1999 में ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया।