प्रकाश पादुकोण को पहला लाइफ़टाइम अचीवमेंट पुरस्कार

0
21

भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने 11 सितम्बर को प्रकाश पादुकोण को बैडमिंटन खेल में महत्वपूर्ण योगदान के लिए पहले लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार देने की घोषणा की। बीएआई पहली बार यह पुरस्कार देगा। इसके तहत एक प्रशस्ति पत्र और 10 लाख कैश दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पादुकोण भारत के एकमात्र ऐसे पुरुष खिलाड़ी हैं जिन्होंने दुनिया में नंबर-1 रैंकिंग हासिल किया है।

बीएआई ने इस साल पहली बार अवॉर्ड को देने का फैसला किया है। प्रकाश पादुकोण  भारत के इकलौते पुरुष खिलाड़ी है, जो विश्व नंबर वन रैंकिंग हासिल कर सके है।

बीएआई ने पहली बार यह अवॉर्ड देने का फैसला किया है क्योंकि यह समय देश में बैडमिंटन का विकास करने वाले खिलाड़ियों को सामने लाने का समय है।

प्रकाश पादुकोण:

  •  प्रकाश पादुकोण का जन्म 10 जून 1955 को कर्नाटक में हुआ था।
  •  वे प्रसिद्ध भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी है।
  •  वे लगातार नौ साल 1970 से 1978 तक वरिष्ठ राष्ट्रीय चैंपियन रहे।
  • उन्होंने अंतर्राष्‍ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान वर्ष 1974 के एशियाई खेलों में बनाई।
  •  वे वर्ष 1978 में कनाडा के एडमॉन्टन में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते।
  •  प्रकाश पादुकोण को वर्ष 1972 में अर्जुन पुरस्कारसे सम्मानित किया गया था।
  •  उन्होंने लगभग 15 अन्तरराष्ट्रीय खिताब जीते।
  •  वे वर्ष 1980 एवं वर्ष 1981 में विश्व रैंकिंग में प्रथम स्थान पर रहे।
  •  प्रकाश पादुकोण भारतीय बैडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष भी रहे।
  •  उन्होंने बंगलौर में बैडमिंटन खिलाड़ियों के लिए अकादमी भी खोली है।
  •  उन्होंने वर्ष 1981 में अमेरिका के प्रथम विश्व खेलों में कांस्य पदक जीता।