पोलावरम परियोजना का गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

0
303

आंध्र प्रदेश की जीवन रेखा मानी जाने वाली पोलावरम परियोजना ने 8 जनवरी, 2019 को इतिहास में अपना नाम दर्ज कर लिया। इस परियोजना ने 24 घंटों में 32,315.5 क्युबिक मीटर का कंक्रीट काय संपन्न कर गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया। इस परियोजना ने सबसे बड़ा एवं लगातार कंक्रीट डालने का भी विश्व रिकॉड तोड़ा।

पोलावरम परियोजना के तहत गोदावरी नदी पर राज्य के पश्चिमी गोदावरी जिला के पोलावरम मंडल के रमैयापेट में बांध बनाया जा रहा है। इस बाँध का जलाशय  छत्तीसगढ़ तथा ओडिशा तक फैला हुआ है। राज्य में पानी की सभी जरूरतों के इस परियोजना से पूरा होने की उम्मीद है। 

इस परियोजना के तहत 45.72 मीटर ऊंचा तथा 2.32 किलोमीटर लंबा बांध बनाया जाना है। इस बांध की जल भंडारण क्षमता 551 मिलियन क्युबिक मीटर होगी।

ध्यान देने योग्य है कि हाल ही में आंध्र प्रदेश को पोलावरम परियोजना के लिए केन्द्रीय सिंचाई व ऊर्जा बोर्ड (Central Board Of Irrigation And Power : CBIP) पुरस्कार प्रदान किया गया। यह पुरस्कार पोलावरम परियोजना के नियोजन, क्रियान्वयन तथा मॉनिटरिंग के लिए प्रदान किया गया है।