पूर्व रेल मंत्री सी.के. जाफर शरीफ का निधन

0
101

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री सी. के. जाफर शरीफ का दिल का दौरा पड़ने से 25 नवम्बर 2018 को बेंगलुरु के एक स्थानीय अस्पताल में निधन हो गया। वे 85 साल के थे।

सी.के. जाफर शरीफ का जन्म 3 नवंबर 1933 को चित्रदुर्ग के चल्लाकेरे में हुआ था। उनका राजनीतिक करियर लगभग 50 साल का रहा। शरीफ बेंगलूर उत्तरी सीट से सात बार लोकसभा सदस्य चुने गए थे। उनकी गिनती इंदिरा गांधी के विश्वासपात्र नेताओं में होती थी।

बेंगलुरू उत्तर और बेंगलुरू ग्रामीण लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों से सासंद रहे शरीफ पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव की सरकार में वर्ष 1991 से वर्ष 1995 तक रेलवे मंत्री थे। उनके रेल मंत्री रहने के दौरान ही यूनिगेज प्रोजेक्ट की शुरुआत हुई थी।

वर्ष 1995 में ही जाफर शरीफ पर रेल मंत्री के रूप में अपनी यात्रा के दौरान सरकारी कर्मचारियों को साथ लंदन ले जाने को लेकर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। इससे सरकार को सात लाख रुपए का नुकसान हुआ, लेकिन नवंबर 2012 में उनके खिलाफ इस मामले को खारिज कर दिया गया था।

ध्यान देने योग्य है कि पिछले लोकसभा चुनाव में टिकट न मिलने से जाफर शरीफ ने नाराज होकर कांग्रेस छोड़ दी थी।