नीति आयोग ने मूव हैक का शुभारंभ किया

0
63

नीति आयोग ने भारत में गतिशीलता के भविष्य के उद्देश्य से वैश्विक गतिशीलता हैकथॉन-मूव हैक का शुभारंभ किया है। यह विश्व स्तर पर सबसे बड़े हैकथॉन में से एक होगा। मूव हैक में दस विषयों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा और सिंगापुर व नई दिल्ली में अंतिम रूप से संचालित होगा।

हैकथॉन-मूव हैक सिंगापुर सरकार के साथ संयुक्त रूप से आयोजित किया जाएगा। मूव हैक का उद्देश्य गतिशीलता से संबंधित समस्याओं के लिए अभिनव, गतिशील और मापनीय समाधान लाना है।

मूव हैक सभी देशो के नागरिको के लिए खुला है। इसके लिए निर्धारित पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। पंजीकरण https://www.movehack.gov.in पर किया जा सकता है। 

ऑनलाइन आवेदन के शीर्ष तीस दल सिंगापुर की 1 और 2 सितंबर 2018 को यात्रा करेंगे। 5 और 6 सितंबर 2018 को नई दिल्ली में आयोजित अंतिम दौर में सिंगापुर चरण के शीर्ष 20 दल भाग लेंगे। नीति आयोग द्वारा 7 और 8 सितंबर 2018 को आयोजित मूव शिखर सम्मेलन 2018 में विजेताओं की घोषणा की जाएगी और इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी करेंगे।

मूव हैक:

मूव हैक दुनिया का पहला मंच है जिसमें सार्वजनिक परिवहन, निजी परिवहन, सड़क सुरक्षा, बहुआयामी कनेक्टिविटी और शून्य उत्सर्जन वाहनों जैसी नए युग की परिवहन प्रौद्योगिकी को शामिल किया गया है। हैकथॉन दो स्तरों “जस्ट कोड इट” (प्रौद्योगिकी/उत्पाद/सॉफ्टवेयर और डेटा विश्लेषण में नवाचारों के माध्यम से समाधान) और “जस्ट साल्व इट” (अभिनव व्यावसायिक विचार या टिकाऊ समाधान) प्रौद्योगिकी पर संचालित किया जाएगा तथा इनके  माध्यम से गतिशीलता के बुनियादी ढाँचे को बदलने पर विचार किया जाएगा।