केरल मसाला बॉण्ड जारी करने वाला देश का प्रथम उप-संप्रभू इकाई

0
9

केरल के मुख्यमंत्री श्री पी. विजयन ने 17 मई, 2019 को लंदन स्टॉक एक्सचेंज में केरल इन्फ्रास्ट्रक्चर इनवेस्टमेंट फंड बोर्ड (केआईएफएफबी) के मशाला बॉण्ड की लिस्टिंग में हिस्सा लिया। ऐसे करने वाले वे प्रथम भारतीय मुख्यमंत्री है। इसके साथ ही मसाला बॉण्ड जारी करने वाला केरल देश का प्रथम राज्य बन गया है।

केरल सरकार का मानना है कि 2150 करोड़ रुपए का मसला बॉण्ड बिक्री से राज्य में बाढ़ के नुकसान के पश्चात आधारिक संरचना विकास में सहायता मिलेगी। केरल सरकार द्वारा मसाला बॉण्ड जारी करने की योजना राज्य के वित्त मंत्री थॉमस इसाक को को है।

मसाला बॉण्ड:

मसाला बॉण्ड विदेशी बाजारों से रुपए में उधार लेने की प्रक्रिया है। मसाला बाण्ड नाम सर्वप्रथम अंतरराष्ट्रीय वित्त निगम (आईएफसी) ने भारतीय संस्कृति व व्यंजन को विदेशी मंचों पर लोकप्रिय बनाने के लिए गढ़ा था। मसाला बॉण्ड जारी करने का मुख्य उद्देश्य भारत में आधारिक संरचना के निर्माण के लिए वित्तीयन है तथा भारत का समग्र आर्थिक विकास है।

चूंकि यह बॉण्ड भारतीय मुद्रा रुपया से जुड़ा हुआ है इसलिए विनिमय बाजार में रुपया के उतार-चढ़ाव से निवेशकों को रूबरू होना पड़ता है। वर्तमान में भारतीय मसाला बॉण्ड लंदन स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध होता है।

ध्यान देने योग्य है कि मसाला बॉण्ड जारी करने का प्रावधान भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 29 सितंबर, 2015 के नीतिगत घोषणा में की गई थी।