ओडिशा में दुर्लभ जनजातीय भाषाओं का शब्दकोष तैयार किया गया

0
95

ओडिशा राज्य के मुख्यमंत्री श्री नवीन पटनायक ने 24 नवंबर, 2018 को विलुप्त हो रही जनजातीय भाषाओं को बोलचाल में जारी रखने के लिए 21 ऐसी भाषाओं का लेक्सिकन तैयार किया है। इसे राज्य विकास परिषद् ने तैयार किया है।

इसमें राज्य के जनजातीय संग्रहालय को ‘ओडिशा राज्य जनजातीय संग्रहालय’ के रूप में उन्नयन किया गया है।दुभाषिया जनजातीय शब्दकोश का उपयोग बहुभाषायी शिक्षा में किया जाएगा जिसे ओडिशा सरकार ने जनजातीय बहुल आबादी में बुनियादी स्तर पर आरंभ किया है।

उल्लेखनीय है कि भारत के जनजातीय मानचित्र पर ओडिशा में सर्वाधिक जनजातीय समुदाय (जनजातीय विविधता) मिलते हैं। राज्य में 62 विभिन्न जनजातीय समुदाय के लोग रहते हैं जिनमें 13 पर्टिकुलर्ली वलनरेब्ल ट्राइबल (पीवीटी-particularly vulnerable tribal groups) समूह हैं। ये जनजातीय समुदाय 21 भाषाएं एवं 74 बोलियां बोलते हैं। इन 21 जनजातीय भाषाओं में से 7 की अपनी लिपि है।