ए एन झा नये वित्त सचिव नियुक्त किये गये

0
170

भारत के वर्तमान व्यय सचिव ए एन झा को 03 दिसंबर 2018 को देश का नया वित्त सचिव नियुक्त किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने झा को वित्त सचिव नियुक्त करने को मंजूरी दी। हसमुख अधिया के 30 नवंबर को सेवानिवृत्त होने के बाद यह नियुक्ति की गयी है।

ए एन झा मणिपुर-त्रिपुरा कैडर के 1982 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। सेंट स्टीफंस कालेज से स्नातक और स्नात्कोत्तर करने वाले झा को विश्वबैंक से मैक गिल यूनवर्सिटी कनाडा से आर्थिक नीति एवं प्रबंधन में स्नात्कोत्तर के लिये पुरस्कार मिला था। उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से लोक प्रशासन में एमफिल की डिग्री हासिल की।

ए एन झा भारत सरकार में विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं, जिनमें पर्यावरण एवं वन विभाग में प्रिंसिपल सेक्रेटरी, मणिपुर नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी के चेयरमैन, यूनाइटेड नेशन्स इकॉनोमिक एंड सोशल कमीशन फॉर एशिया एंड पसिफ़िक में भारत की ओर से कंसलटेंट में रह चुके हैं।

भारत का वित्त सचिव:

वित्त सचिव भारत के वित्त मंत्रालय का वरिष्ठतम आईएएस अधिकारी होता है जो मंत्रालय के विभिन्न विभागों के काम-काज में समन्वय रखता है। वित्त मंत्रालय पांच विभागों से बना है:

  1. आर्थिक विभाग,
  2. राजस्व विभाग,
  3. व्यय विभाग,
  4. वित्तीय सेवा विभाग तथा
  5. निवेश और लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग।

प्रत्येक विभाग का एक सचिव होता है तथा प्रत्येक सचिव वित्त मंत्री को रिपोर्ट करता है। इन सभी सचिवों में एक वित्त सचिव होता है जो इसमें से सीनियर होता है। अब तक भारत के अधिकतर वित्त सचिव आईएएस अधिकारी रहे हैं जबकि कुछ अर्थशास्त्री भी इस पद पर पहुंचे हैं। भारतीय मुद्रा में एक रुपये के नोट पर वित्त सचिव के हस्ताक्षर होते हैं।