एम. वेंकैया नायडू ने किया “विवेकदीपनी” पुस्तक का विमोचन

0
35

उपराष्ट्रपति श्री एम. वेंकैया नायडू ने हाल ही में “विवेकदीपनी” नामक पुस्तक का विमोचन किया है। इस पुस्तक में आदि शंकराचार्य द्वारा लिखी गयी सूक्तियों का संकलन है।

यह पुस्तक आदि शंकराचार्य द्वारा लिखित “प्रश्नोत्तर रत्नामलिका” का सार है। इसमें “प्रश्नोत्तर रत्नामलिका” के 67 पद्यों में से 36 पद्य लिए गये हैं, यह प्रश्न-उत्तर की तर्ज़ पर लिखे गये हैं। इस पुस्तक में सार्वभौमिक सत्य है।

आदि शंकराचार्य-

आदि शंकराचार्य ने चार मठों की स्थापना की, जिन्होंने अद्वैत वेदांत के ऐतिहासिक विकास, पुनरुद्धार और प्रसार में मदद की। आदि शंकराचार्य दशनामी मठ के आयोजक और उपासना की शांत परंपरा के संस्थापक थे।