ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस रैंकिंग में भारत 100वें स्थान पर

0
19

31 अक्टूबर 2017 को वर्ल्ड बैंक द्वारा जारी रिपोर्ट में भारत ने ईज ऑफ डूइंग बिजनस रैकिंग्स में भारत 100वें स्थान पर पहुंच गया है। कारोबारी सुगमता के मामले में पिछले साल भारत 130वें स्थान पर था। विश्व बैंक ने भारत को इस साल सबसे ज्यादा सुधार करने वाले दुनिया के शीर्ष 10 देशों की सूची में शामिल किया है। भारत इस प्रतिष्ठित सूची में शामिल होने वाला दक्षिण एशिया और ब्रिक्स समूह का इकलौता देश है।

वह 10 प्रमुख क्षेत्र जिसमें भारत का प्रदर्शन पहले के मुकाबले बेहतर हुआ है:

  • नया बिजनस शुरू करनाः नया बिजनस को शुरू करने मामले में भारत 156 स्थान पर पहुंच गया है। इसमें भारत की रैंकिंग में पहले के मुकाबले सुधार हुआ है।
  • कंस्ट्रक्शन परमिटः वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के अनुसार कंस्ट्रक्शन परमिट देने के मामले में भारत अभी 181वें स्थान पर हैं।
  • इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शनः बिजनस के लिए इलेक्ट्रिसिटी कनेक्शन देने के मामले में भारत 129वें नंबर पर है।
  • प्रॉपर्टी रजिस्ट्रीः बिजनस के लिए प्रॉपर्टी रजिस्ट्री के मामले की रैंकिंग में भारत 29वें स्थान पर है।
  • क्रेडिट प्राप्ति: बिजनस के लिए क्रेडिट मिलने के मामले में भारत 29वें स्थान पर है।
  • छोटे शेयरधारकों की सुरक्षाः छोटे शेयरधारकों की सुरक्षा में भारत की रैंकिंग चौथे स्थान पर पहुंच गया है।
  • टैक्स चुकानाः वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के अनुसार टैक्स चुकाने के मामले में भारत अभी 119वें स्थान पर है।
  • सीमा पार व्यापारः ट्रेड अक्रॉस द बॉर्डर के मामले में भारत की रैंकिंग 146 है।
  • कॉन्ट्रैक्ट लागू करनाः इस रिपोर्ट के अनुसार कॉन्ट्रैक्ट लागू करने के मामले में भारत 164वें स्थान पर है।
  • रिजॉल्विंग इनसॉल्वंसीः इस मामले मे भारत 33 स्थान की छलांग लगाकर भारत 103 पर पहुंच गया है।