आरटीजीएस की अवधि शाम 4.30 से बढ़ाकर 6 बजे किया गया

0
9

अधिक मूल्य के कैश ट्रांसफर की सुविधा प्रदान करने हेतु RBI ने आरटीजीएस (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट-Real Time Gross Settlement: RTGS) की अवधि शाम के 4.30 बजे से बढ़ाकर शाम के 6 बजे कर दिया है। अर्थात अब शाम के छह बजे तक आरटीजीएस के माध्यम से फंड ट्रांसफर किया जा सकता है। भारतीय रिजर्व बैंक ने उपर्युक्त अधिसूचना मुंबई में 27 मई, 2019 को जारी किया तथा यह व्यवस्था 1 जून, 2019 से लागू होगी।

आरटीजीएस का पूर्ण रूप है वास्तविक समय सकल भुगतान (Real Time Gross Settlement)। इसमें कोई व्यक्ति वास्तविक समय के आधार पर ऑनलाइन कैश ट्रांसफर कर सकता है। मतलब यह कि कैश ट्रांसफर तुरंत हो जाता है और उसके लिए इंतजार नहीं करना पड़ता है। आरटीजीएस के तहत 2 लाख रुपए से अधिक की राशि ट्रांसफर की जा सकती है और अधिकतम ट्रांसफर की कोई सीमा नहीं है।

एनईएफटी (NEFT) एवं आरटीजीएस (RTGS) में अंतर:

एनईएफटी (NEFT: National Electronic Funds Transfer ) एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर प्रणाली है जिसमें किसी समय तक प्राप्त ट्रांजेक्शन को बैच में ट्रांसफर किया जाता है अर्थात इसमें नकद तुरंत ट्रांसफर नहीं होता है। वहीं आरटीजीएस में प्रत्येक ट्रांजेक्शन को निंरतर ट्रांसफर कर दिया जाता है और पैसा उसी समय जमा हो जाता है।