आईसीआईसीआई बैंक के एमडी और सीईओ पद से चंदा कोचर का इस्तीफा

0
176

चंदा कोचर ने आईसीआईसीआई बैंक के एमडी और सीईओ पद से 4 अक्टूबर को इस्तीफा दे दिया। कोचर का मौजूदा पांच वर्ष का कार्यकाल 31 मार्च 2019 को खत्म होना था। आईसीआईसीआई बैंक के साथ 2012 में 3,250 करोड़ रुपये के ऋण में कर्ज के लिये फायदा पहुंचाने के मामले में वीडियोकॉन समूह जांच के घेरे में है। इस मामले में बैंक की तत्कालीन प्रबंध निदेशक और सीईओ चंदा कोचर की भूमिका की भी जांच की जा रही है।

संदीप बक्शी नये एमडी और सीईओ: चंदा कोचर के इस्तीफे के बाद निदेशक मंडल की ओर से संदीप बख्शी को बैंक का प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी नियुक्त करने का फैसला लिया गया है। संदीप बख्शी का कार्यकाल 5 वर्ष, अक्टूबर 2023 तक होगा।

चंदा कोचर पर वीडियोकॉन ग्रुप को दिए गए लोन को लेकर आरोप लग रहे थे। उन पर आरोप था कि उन्होंने वीडियोकॉन ग्रुप को लोन देने के दौरान अनियमितता बरती और अवैध तरीके से निजी लाभ लिया। इसमें चंदा कोचर के पति दीपक कोचर का नाम भी सामने आया है। इस मामले के खुलासे के बाद से ही चंदा कोचर को 19 जून 2018 से ही छुट्टी पर भेज दिया गया था।

ICICI बैंक और वीडियोकॉन ग्रुप के निवेशक अरविंद गुप्ता ने चंदा कोचर पर आरोप लगाया था कि कोचर ने वीडियोकॉन को कुल 3250 करोड़ रुपये के ऋण मंजूर करने के बदले में गलत तरीके से निजी लाभ लिया। जिसके बाद मामले में बैंक की सीईओ और एमडी चंदा कोचर और उनके पति की मुश्किलें बढ़ी हुई हैं।