अमेरिका ने भारत को प्राथमिक निगरानी सूची में रखा

0
103

25 अप्रैल 2019 को अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधित्व (यूएसटीआर) ने भारत को बौद्धिक संपदा (आईपी) अधिकारों के उल्लंघन के लिए ऐसे देशों की सूची में शामिल कर दिया है जिनकी वह इस मामले में प्राथमिक के साथ निगरानी करेगा। प्राथमिक निगरानी सूची में भारत समेत 11 अन्य देश चीन, अल्जीरिया, भारत, चिली, अर्जेटीना, कुवैत, इंडोनेशिया, रूस, सऊदी अरब, यूक्रेन और वेनेजुएला भी शामिल हैं।

अमेरिका ने बौद्धिक संपदा से संबंधित चिंताओं को दूर करने हेतु इन देशों को यूएसटीआर से द्विपक्षीय संपर्क बढ़ाना होगा। आने वाले सप्ताहों में अमेरिका कई वर्षों से प्राथमिक निगरानी सूची में शामिल देशों के प्रावधानों को अपने व्यापार कानून विशेष 301 कसौटी पर रखेगा। ऐसे देश जो अमेरिका का चिंता को दूर करने में विफल पाये जाते हैं अमेरिका उन देशों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई करेगी।

अमेरिका द्वारा प्रस्तुत की गई यूएसटीआर रिपोर्ट में भारत के संबंध में कहा गया है कि भारत में अमेरिकी कंपनियों को लंबे समय से बौद्धिक संपदा से संबंधित चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

अमेरिका की इस निगरानी सूची में चीन को प्रथम स्थान पर रखा गया है जबकि भारत को दूसरे स्थान पर रखा गया हैं। रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है कि भारत में लंबे समय से बौद्धिक संपदा के फ्रेमवर्क में लंबे समय से खामिया रही हैं।