अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस : 12 मई

0
18

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस (आईएनडी) हर साल 12 मई को विश्व नर्सिंग के संस्थापक फ्लोरेंस नाइटिंगेल की याद में दुनिया भर में मनाया जाता है। यह दिवस समाज की ओर नर्सों का योगदान भी चिह्नित करता है। वर्ष 2019 के लिए इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्स (आईसीएन) द्वारा चुनी गई थीम है- ‘Nurses: A Voice to Lead – Health for All’.

इस अवसर पर, भारत के राष्ट्रपति ने पूरे देश से आये नर्सिंग कर्मियों को भक्ति, ईमानदारी, समर्पण और करुणा के साथ प्रदान की गई निःस्वार्थ सेवा हेतु राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार प्रदान किए ।

पृष्ठभूमि:

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस का पहला प्रस्ताव 1953 में डोरोथी सुथरलैंड (यूएस स्वास्थ्य,शिक्षा और कल्याण विभाग ) द्वारा प्रस्तावित किया गया था इसे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति ड्वाइट डी आइज़ेनहोवर द्वारा घोषित किया था।

इसे पहली बार 1965 में इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्स (आईसीएन) द्वारा मनाया गया था।

जनवरी 1974 से यह 12 मई को फ्लोरेंस नाइटिंगेल के संस्थापक की जन्मदिन की सालगिरह के रूप में मनाया जाने लगा। उनका जन्म 12 मई, 1820 को हुआ था।

उल्लेखनीय है कि फ्लोरेंस नाइटिंगेल एक ब्रिटिश नागरिक थीं। उन्हें युद्ध में घायल व बीमार सैनिकों की सेवा के लिए जाना जाता है। उन्हें ‘लेडी विद द लैंप’ कहा जाता है।  1909 में उन्हें ‘फ्रीडम ऑफ़ द सिटी ऑफ़ लन्दन’ पुरस्कार प्रदान किया गया था, वे इस पुरस्कार को जीतने वाली प्रथम महिला थीं।